फिर बदलेगा ग्रामीण बैंक का नाम, बनेगी आर्यावत बैंक

IMG-20210112-WA0003

 

हमीरपुर। बैंकों के विलय करने की प्रक्रिया में इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक एवं ग्रामीण बैंक आॅफ आर्यावत का समामेलन कर दिया गया है। यह जानकारी इलाहाबाद यूपी ग्रामीण के क्षेत्रीय प्रबन्धक दीपक कुमार गुप्ता ने दी । उन्हेंाने बताया कि नोटिफिकेशन के अनुसार एक अप्रैल 2019 से दोनों बैंको का विलय करके अब आर्यावर्त बैंक नाम दे दिया गया है। यूपी ग्रामीण बैंक का प्रायोजक इलाहाबाद बैंक व ग्रामीण बैंक आफ आर्यावर्त का प्रायोजक बैंक आफ इण्डिया था। नये बैंक का प्रायोजक बैंक आफ इण्डिया है।इस बैंक की प्रदेश में 1360 शाखायें है। आर्यावर्त बैंक का प्रधान कार्यालय लखनऊ में है। इस बैंक के अस्तित्व में आने से ग्राहकों को खाता संचालन में असुविधा नहीं होगी । पूर्व में कार्य कर रही सभी समामेलित शाखायें यथावत कार्य करती रहेंगी । जनपद महोबा में आर्यावर्त की 22 शाखायें हैं  । हमीरपुर जिले में 41 शाखायें होंगी। ये शाखायें बैंक आफ इण्डिया द्वारा प्रायोजित होंगी। दोनों जनपदो में बैंक आफ इण्डिया की हिस्सेदारी बढ़ गयी है।