गेंहूं की सरकारी खरीद के बुंदेलखंड के नोडल अधिकारी ने जिले में लिया क्रय केंद्रों का जायजा

IMG-20210112-WA0003
IMG-20211106-WA0002

उरई। प्रादेशिक सहकारी यूनियन के प्रबंध निदेशक मनोज कुमार ने मंगलवार को जिले में गेंहूं खरीद केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। श्री कुमार बुंदेलखंड में समर्थन मूल्य पर गेंहूं की सरकारी खरीद योजना के नोडल अधिकारी भी हैं। यहां के केंद्रो पर उन्हें कुल मिलाकर व्यवस्थाएं संतोषजनक मिलीं। उनके साथ सहायक निबंधक सहकारिता प्रेमचंद्र और सहकारिता विभाग के अन्य अधिकारी भी थे।
नगर में मनोज कुमार ने मंडी में खोले गये पीसीएफ, यूपीएसएस और पीसीयू के आठ केंद्रों का बारीकी से निरीक्षण किया। ध्यान रहे कि इस बार 1840 रुपये प्रति कुंतल की दर से सरकारी खरीद की जा रही है जिसमें 20 रुपये छनाई के लिए अतिरिक्त दिये जा रहे हैं। सभी केंद्रों पर उन्होंने खरीद की रफ्तार को परखा साथ ही किसानों को दी जाने वाली सुविधाओं की भी स्थिति देखी।
खरीदे गये गेंहूं की डिलेवरी की समस्या क्रय केंद्र प्रभारियों ने बतायी। इस पर उन्होंने संबंधितों से वार्ता कर समस्या का निराकरण कराने का आश्वासन दिया। बताया गया है कि खरीदे गये गेंहूं का फिलहाल विशिष्ट मंडी में भंडारण करा दिया गया है। मनोज कुमार की पहल पर खरीदे गये गेंहूं की डिलेवरी के लिए रेलवे में आज-कल में एक रैक की व्यवस्था का भरोसा उन्हें मिल गया है।
मंडी में पीसीएफ के खरीद केंद्र की व्यवस्थाओं से एमडी काफी खुश नजर आये। उन्होंने केंद्र संचालक महेश पाण्डेय की इसके लिए पीठ थपथपाई।