कालपी में मिले महिला के शव की पहचान, हत्या के संदेह में एक हिरासत में

IMG-20210112-WA0003

उरई। कालपी कस्बे में सोमवार की सुबह मिली महिला की लाश की पहचान हो गई है। उसकी हत्या के संदेह में एक युवक को हिरासत में लिया गया है जो उसकी अविवाहित पुत्री का प्रेमी बताया जा रहा है। पुलिस ने घटना को लेकर अभी कुछ कहने से इंकार किया। मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक स्वामी प्रसाद ने कहा है कि अभी पड़ताल चल रही है। स्थिति पूरी तरह स्पष्ट हो जाने के बाद ही पुलिस कुछ कहेगी।
कालपी में सोमवार को सुबह यमुना के राजघाट की ओर घूमने गये लोगों को अधेड़ महिला की लाश झाड़ियों में दिखाई दी जबकि रास्ते में उसका खून फैला हुआ था। शव देखकर लोगों में दहशत छा गई। इस बीच किसी ने पुलिस को खबर कर दी। स्थानीय पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया। पहले घटना को लेकर तमाम अटकलें लगायी जा रही थी लेकिन पुलिस की पड़ताल महिला की शिनाख्त न हो पाने की वजह से आगे नहीं बढ़ पा रही थी।
इस बीच पूड़ी बेलने वाली घुर्रो (50वर्ष) की परेशान पुत्री ज्योति (22वर्ष) को राजघाट के पास महिला की लाश मिलने की खबर मिली। रात में 11 बजे के बाद उसकी मां रोकने पर भी काम के लिए घर से निकल गई थी। सुबह देर तक वह वापस नहीं लौटी जिससे ज्योति उसे ढ़ूढ़ने के लिए भटक रही थी। ज्योति लाश की खबर सुनकर राजघाट पहुच गई जहां उसने पुलिस के सामने अपनी मां की पहचान कर ली। उसने चिल्लाते हुए मोहल्ले के एक युवक भूरे का नाम लिया। कहा कि भूरे ने उसकी मां को मार डाला। पुलिस के कुरेदने पर वह ज्यादा कुछ बताने को तैयार नहीं हुई और भूरे के ही नाम की रट लगाती रही। इसी बीच पुलिस ने भूरे के घर जाकर उसे हिरासत में ले लिया।
पता चला है कि ज्योति कुछ समय पहले भूरे के साथ चली गई थी जिसे लेकर उसकी मां ने भूरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया था। पुलिस पूंछतांछ कर गहराई से छानबीन कर रही है। पुलिस अधीक्षक स्वामी प्रसाद भी जायजा लेने के लिए मौके पर पहुंच गये।