योगी जी यहां तो दाना पानी न मिलने से तड़प तड़प कर मर रही हैं गायें

IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003
IMG-20210112-WA0003
IMG-20210509-WA0000

जालौन। शुक्रवार की रात विकास खंड के ग्राम हीरापुर में संचालित गौशाला में गायों की मरने की खबर सोशल मीडिया में वायरल होने पर एसडीएम ने मौके पर जाकर गौशाला का निरीक्षण किया। पशु चिकित्सक ने बताया कि बीमार गायों की मौत भूखा रहने एवं पानी न मिलने से हुई है।
क्षेत्रीय ग्राम हीरापुर में संचालित गौशाला में अव्यवस्थाओं का अंबार है। हालत यह है कि गोशाला में काम करने वाले व्यक्ति को रुपए न मिलने पर वह काम छोडक़र चला गया था जिसके चलते गायों की देखरेख करने वाला कोई नहीं था। चारा पानी के अभाव में गौशाला में एक एक कर गायों के मरने का सिलसिला शुरू हो गया। इसकी खबर जैसे ही पत्रकारों को लगी तो रात में पत्रकार गौशाला में पहुंच गए जहां मृत गायों के अवशेष पड़े हुए थे। इसके बाद जैसे ही यह खबर सोशल मीडिया में वायरल हुई तो हडक़ंप मच गया। मृत गायों के अवशेषों को रात मेंं ही या तो दफना दिया गया अथवा उन्हें पानी में बहा दिया गया। गायों के मौत की खबर को सुनकर प्रशासन भी हरकत में आ गया। शनिवार की सुबह एसडीएम सुनील कुमार शुक्ला, बीडीओ महिमा विद्यार्थी के साथ मौके पर पहुंचे जहां उन्हें मृत गायें तो नहीं मिली लेकिन आधा दर्जन से अधिक गायें बीमारी की हालत में मिली जिसके बाद उन्होंने पशु चिकित्साधिकारी डा. रविंद्र राजपूत को बीमार गायों का इलाज करने के निर्देश दिए। गायों की मौत के संबंध में जब पशु चिकित्साधिकारी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि गायों के स्वास्थ्य का परीक्षण करने के लिए वह नियमित गौशाला पहुंचते हैं। गायों की मौत भूखा रहने एवं पानी न मिलने की वजह से हुई है। वही उक्त संदर्भ में ग्रामीणों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि गोशाला में काम करने वाले कर्मचारी को समय से वेतन न दिए जाने से कर्मचारी काम छोडक़र चला गया था। जिसके चलते गायों की देखभाल नही ंहो सकी। इतना ही नहीं गायों के चारे पानी की व्यवस्था न होने से गायों ने भूख व प्यास के चलते तड़प तड़प कर दम तोड़ दिया।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments