खूनी साड़ को नाथने के लिए प्रशासन ने छेड़ा युद्ध, गन की मांग भेजी

IMG-20210112-WA0003

कुठौंद-उरई। आवारा जानवरों के खूनी हो जाने के बाद प्रशासन जागा है। गत दिनों एक साड़ की ठोकर से घायल किसान माधौसिंह गुर्जर के प्राण पखेरू उड़ गये थे। इस बलिदान के बाद अधिकारियों को आखिर हरकत में आना पड़ा।
इसके तहत जालौन के एसडीएम सुनील कुमार शुक्ला ने तहसीलदार, कानूनगो, लेखपाल और प्रभारी निरीक्षक सुधाकर मिश्रा के साथ खूंखार जानवरों को पकड़ने का अभियान गुरुवार से छेड़ दिया। हालांकि पूरे दिन की मशक्कत के बावजूद अभी तक खूनी साड़ पकड़ने में नही आया है।
एसडीएम ने कहा कि नशीला इंजेक्शन छोड़ने के लिए गन मंगाई जा रही है तभी साड़ को पकड़ना संभव हो पायेगा। उन्होनें कहा कि ऐसा किया जाना अन्य जाने बचाने के लिए जरूरी हो गया है।