साम्प्रदायिक तनाव का कारण बने कत्ल के मुख्य आरोपित को कोतवाली पुलिस ने दबोचा, हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद

IMG-20210112-WA0003

उरई। दीवाली के त्यौहार के बीच शहर के मिश्रित आबादी वाले सदनपुरी मोहल्ले में साम्प्रदायिक बबाल का कारण बने कत्ल के मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी के साथ पुलिस को गुरुवार को राहत की सांस मिल गई है।
गौरतलब है कि 28 अक्टूबर को सदनपुरी में 45 वर्षीय भागीरथ की हत्या कर दी गई थी। जिसका मुकदमा मृतक की पत्नी संतोषी की ओर से उसी के मोहल्ले के छोटे कसाई के नाम से दर्ज किया गया था। इस कत्ल के बाद पुलिस साम्प्रदायिक वैमनस्य की आग को सुलगने से रोकने के लिए पूरी ताकत झोके हुए थी।
अपर पुलिस अधीक्षक डा. अवधेश कुमार सिंह ने इस बारे में आज कोतवाली में मीडिया को जानकारी दी कि आरोपित छोटे कसाई को जालौन चुंगी के पास से सीओ सिटी संतोष कुमार ने पक्की सुरागरशी के आधार पर दबोच लिया। उसने जुर्म कबूल कर लिया है। उसके पास से वारदात में प्रयोग किया गया चाकू और खून से सना हुआ पैंट जिसे वारदात के समय आरोपित पहने था बरामद किया गया है।
अपर पुलिस अधीक्षक ने आरोपित की गिरफ्तारी के लिए व्यूह रचना में मुख्य भूमिका निभाने वाले उप निरीक्षक योगेश पाठक, योगेश पटेल, लाल बहादुर सिंह और कास्टेबिल कृष्णवीर इंदौलिया और राघवेंद्र सिंह की पीठ थपथपाई।