सीएचसी नदीगांव की लगातार कोशिश ने दिलाई कामयाबी,कायाकल्प अवार्ड में सीएचसी नदीगांव उत्तरप्रदेश में अव्वल

20191128_121956
IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003

*
कोंच। स्वच्छता और स्वास्थ्य सुविधाओं के मानकों पर प्रदेश में नदीगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहले स्थान पर रहा जिस पर डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों व नगर के लोगों ने प्रसन्नता व्यक्त की है। कायाकल्प अवार्ड में प्रदेश में 95.2 प्रतिशत स्कोर हासिल कर यह अव्वल रहा।
जनपद जालौन के सुदूरवर्ती बीहड़ से सटे अंचल में बसेे नदीगांव जैसेे छोटे सेे कस्बे में स्थित सीएचसी के लिए कायाकल्प अवार्ड के लिए अव्वल चुना जाना निश्चित रूप से एक बड़ी उपलब्धि है। यह तब संभव हो सका जब सीएचसी प्रभारी समेत उसमें तैनात समूचे स्टाफ ने इसके लिए लगातार कड़ी मेहनत की। बर्ष 2017-18 में उसने कायाकल्प अवार्ड के लिए प्रतिभाग किया था और यूपी में पांचवां स्थान हासिल कर सांत्वना पुरस्कार पर संतोष करना पड़ा था। इसके बाद 2018-19 में उसने फिर प्रतिभाग किया और अपनी रेंक में सुधार करते हुए 87.6 फीसदी अंक प्राप्त कर दूसरी पायदान पर आकर टिक गया। 2019-20 में स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत एनक्यूएएस जो भारत सरकार की योजना है, में पहली बार प्रतिभाग किया। इसका मूल्यांकन भारत सरकार की टीम ने किया जिसमें 92.7 प्रतिशत अंक पाकर नेशनल क्वालिटी सर्टिफिकेट प्राप्त किया। कायाकल्प अवार्ड योजना में भी इसने प्रतिभाग किया जिसमें झांसी मंडल और राज्य की टीमों नेे मूल्यांकन कर 95.2 फीसदी अंक दिए। इस प्रकार सीएचसी ने यूपी में पहला स्थान प्राप्त कर जनपद और तहसील का गौरव बढाया है। स्वाथ्य केंद्र प्रभारी डॉ. देवेंद्र भिटौरिया ने कहा कि ये मुकाम हासिल करने में पूरे स्टाफ की मेहनत और सहयोग की अहम् भाूमिका है। इस दौरान डॉ. मोहनी गुप्ता, डॉ. केके भार्गव, डॉ. जीएस गुप्ता, अंजनी मिश्र, जयचंद सुमन, विनय वाजपेई, एसके पाल, संदीप श्रीवास्तव, लाखन सिंह, प्रदीप पटेल, राजू, जयप्रकाश आदि मौजूद रहे।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments