दलित प्रधानमंत्री की उम्मीद का दिया बुझा

रामविलास पासवान के निधन से एक संभावनाशील राजनीतिज्ञ का अवसान हो गया है। उनकी राजनीति की शुरूआत जिस धमाकेदार ढंग से हुई उससे उनके बहुत दूर तक पहुंचने की उम्मीदें जताई जाती थी। हालांकि सफल […]

घाटी के नेताओं की चुनौती पर क्यों उदासीन है केंद्र

कश्मीर घाटी में प्रमुख नेताओं को रिहा किये जाने से उथल-पुथल शुरू हो गई है। ये नेता दिग्भ्रिमित हैं और अपने राजनैतिक पुनर्जीवन की बाट जोह रहे हैं। अंधेरी सुरंग में फस जाने के एहसास […]