बंदी राहुल के पोस्टमार्टम में हार्ट की नस फटने से मौत की हुई पुष्टि, तीन डाक्टरों के पैनल ने वीडियोग्राफी के साथ किया पोस्टमार्टम

IMG-20210112-WA0003
>
परिजनों ने जेल प्रशासन पर लगाया था पीट पीट कर हत्या करने का आरोप
उरई। जिला कारागार में तीन दिन पहले विचाराधीन बंदी राहुल उर्फ अक्षय निवासी मोहल्ला कल्याणपुर कानपुर नगर की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। राहुल की मौत को लेकर उसके पिता रामसेवक, मां पुष्पा और बहन गौतमी ने जेल स्टाफ पर राहुल की पीट पीट कर हत्या किया जाने का आरोप लगा रहे थे। इतना ही नहीं परिजनों ने शव को अस्पताल परिसर में रखकर जमकर बवाल किया था। मौके पर पहुंचे एसडीएम सत्येंद्र कुमार के आश्वासन पर आक्रोशित घरवाले शांत हुए थे और तब पुलिस ने बंदी राहुल के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था जिसका पोस्टमार्टम तीन डाक्टरों के पैनल और वीडियोग्राफी के साथ हुआ।
राहुल के शव का पोस्टमार्टम करने में डा. कौशल किशोर, डा. बीपी सिंह और डा. आरपी राजपूत मौजूद रहे। पोस्टमार्टम के बाद डा. कौशल किशोर ने बताया कि बंदी राहुल की मौत किसी भी तरह की पिटाई या जोरजबरदस्ती  से नहीं बल्कि हाई ब्लड प्रेशर होने से उसके हार्ट की नस फटने से हुई है जो अक्सर कड़ाके की सर्दी में लोगों के साथ होता है। राहुल के शरीर पर मौजूद निशानों को लेकर डाक्टर ने बताया कि इस तरह के निशान अमूमन बाडी पर तब होते हैं कि जब बाडी घंटों एक ही जैसी हालत में रखी रहे। एेसा ही कुछ राहुल के शव के साथ भी हुआ। उसके शरीर पर कोई भी जख्म, चोट, पिटाई या फिर जोरजबरदस्ती का निशान नहीं मिला। शहर कोतवाल सुधाकर मिश्रा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बंदी राहुल की मौत की वजह हार्ट की नस फटना आया है और किसी भी तरह की जोरजबरदस्ती या पिटाई होना नहीं आया। इसके बाद भी अगर परिजन तहरीर देंगे तो पुलिस अपनी निष्पक्ष जांच के बाद उचित कार्रवाई करेगी।