पीडितों की फरियाद की अब नही हो पायेगी अनसुनी, हर शिकायत के ठोस निदान के लिये जिलाधिकारी ने खाका खीचा

20191128_121956
IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003
IMG-20210112-WA0003

उरई। सम्पूर्ण समाधान दिवस को सार्थक और प्रभावी बनाने के लिये नवागन्तुक जिलाधिकारी ने कडे दिशा निर्देश जारी किये हैं। अब इस दौरान प्राप्त होने वाली शिकायतों के साथ खिलवाड नहीं हो सकेगा। अधिकारियों को शिकायतों के प्रति गम्भीर होना पडेगा और उन पर ठोस कार्रवाई करनी पडेगी।
मंगलवार को आयोजित होने वाले सम्पूर्ण समाधान दिवस अभी तक अधिकारियों की लापरवाही की भेंट चढती रही है जिससे यह आयोजन औपचारिकता में सिमट कर रह गया है। नयी जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने अब प्रशासन के सारे क्रिया कलापों का जायजा लेने का दौर पूरा कर लिया है और तेवर दिखाने शुरू कर दिये है। उनका जोर मुख्य रूप से आम लोगो से प्राप्त शिकायतों को गम्भीरता से संज्ञान लेने और गडबडियों को सचमुच में दुरूस्त करने पर है। सोमवार को उन्होने आदेश जारी किया कि विभागाध्यक्ष सम्पूर्ण समाधान दिवस की शिकायतों का स्वयं परीक्षण कर शिकायतकर्ता को सुनवाई का अवसर प्रदान करते हुये गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण सुनिश्चित कराये । अगर एक ही शिकायत की अगले सम्पूर्ण समाधान दिवसों में पुनरावृत्ति होती है तो माना जायेगा कि निस्तारण में कोताही की जा रही है जिसे क्षमा नहीं किया जायेगा।
उन्होने बताया कि सबसे ज्यादा शिकायतें विद्युत बिलों की आ रही है। बिजली विभाग के दोनो खण्ड के अधिशाषी अभियन्ता इनके परीक्षण और संशोधन के लिये अभियान चलाये जिसकी प्रगति से उन्हें अवगत कराया जाये।
उन्होने फरमान जारी किया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस के दौरान सम्बन्धित उप जिलाधिकारी और खण्ड विकास अधिकारी समन्वय स्थापित कर 2 ग्रामांे का चयन कर दिवस के एक दिन पहले उन्हें अवगत कराये। सम्पूर्ण समाधान दिवस के बाद उनमें से एक ग्राम में आकस्मिक भ्रमण किया जायेगा जहां जन चैपाल आयोजित कर ग्रामवासियांे की समस्याओं का स्थलीय समाधान होगा। जन चैपाल में जिले के सभी विभागाध्यक्ष उपस्थित रहेगें। हर विभाग के अधिकारी व कर्मचारी लाभार्थी परक योजनाआंे की प्रगति सूचना अपडेट करके रखेगें। उन्होने बताया कि सम्पूर्ण समाधान दिवस की तिथि को प्रत्येक तहसील में 5 राजस्व ग्रामों में राजस्व और पुलिस एवं विकास विभाग के कर्मचारियों की टीमें जायेगी और इनके ग्रामों की प्राप्त होने वाली शिकायतों का स्थलीय एवं गुणवत्ता परक निस्तारण सुनिश्चित करेगें। इसकी रिपोर्ट उनके सामने पेश की जायेगी।

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments