बसपा में प्रत्याशी चयन पर उठ उंगलियां, लेनदेन की चर्चाएं जोरों पर,० 16 सीटों पर बसपा जिलाध्यक्ष ने घोषित किये प्रत्याशी

20191128_121956
IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003
IMG-20210112-WA0003

 

 

० आयातित प्रत्याशियों को टिकट देने का आरोप

 

० पार्टी के बफादार कार्यकर्ता टिकट मिलने से रहे दूर

 

 

उरई । बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष संजय गौतम एवं उनकी टीम के द्वारा जिला पंचायत की 16 सीटों पर जो प्रत्याशियों का चयन किया गया है जिसमें बसपा मिशनरी कार्यकर्ताओं द्वारा उंगलियां उठाई जाने के साथ ही लेनदेन की चर्चाएं भी अंदर खाने में सुनाई दे रही है। नाम न छापने की शर्त पर बसपा के मिशनरी कार्यकर्ताओं का कहना है कि बसपा कमेटी के द्वारा जो प्रत्याशी चयन किया गया उनमें अधिकतर आयातित प्रत्याशियों को प्राथमिकता दी गयी है । यही वजह है कि पार्टी के मिशनरी कार्यकर्ता टिकट मिलने से दूर ही नजर आये। जिसकी बजह से  ऐसे बसपा कार्यकर्ताओं में बसपा जिलाध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेताओं के प्रति आक्रोश पनपता देखा जा रहा है जो खुलकर विरोध करने लिए कभी भी सड़कों पर उतर सकते हैं ।

बसपा जिलाध्यक्ष संजय गौतम द्वारा 16 जिला पंचायत प्रत्याशियों की सूची जारी की है जिनमें जिला पंचायत सीट अकबरपुर-इटौरा से अतर सिंह पाल, परासन से रमनप्रकाश निषाद, ऐर जिला पंचायत सीट से कैलाश राजपूत, डकोर जिला पंचायत से श्रीमती मीरा पाल पत्नी किशन पाल, जैसारी कलां से राघवेंद्र सिंह टिमरों, दिरावटी सीट से मीनाक्षी पटेल पत्नी आनंद पटेल, खकसीस सीट से उमाकांति पत्नी बृजेश जाटव, रेढ़र जिला पंचायत सीट से सावित्री देवी पत्नी रामशरण जाटव, शहजादपुरा सीट से इद्रप्रकाश कुशवाहा (जीतू), गोहन सीट से उमादेवी पत्नी बृजेश प्रजापति, हरौली सीट से प्रयाग नारायण दोहरे, जगम्मनपुर सीट से ज्योति देवी पत्नी राघवेंद्र पांडेय, बाबली सीट से यार मुहम्मद, सिरसाकलार सीट से नारायणहरि अवस्थी, महेवा सीट से मातावती पत्नी सुदामा चौहान एवं चुरखी जिला पंचायत सीट से श्रीमती सुमन देवी पत्नी बृजपाल को प्रत्याशी घोषित किया गया है। बताते चले कि जिला पंचायत की 9 सीटों पर विवाद होने या फिर सहयोग राशि न पहुंचने के कारण प्रत्याशियों का चयन बसपा द्वारा नहीं किया जा सका है। जिसके लिए गोपनीय बैठकें एवं मंत्रणा की जा रही है।

 

 

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Oldest
Newest Most Voted
Inline Feedbacks
View all comments
Muhi Azam
Muhi Azam
4 days ago

बीस लाख की बात.