कल्याण सिंह के गढ़ में भाजपा की करारी हार, 47 जिला पंचायत सदस्यों में नौ पर ही बीजेपी समर्पित प्रत्याशी जीते

IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003
IMG-20210112-WA0003
IMG-20210509-WA0000

अलीगढ़ जिला पंचायत सदस्य चुनाव के सोमवार की देर शाम तक आए नतीजों में भाजपा औंधे मुंह गिरी है। पार्टी को अपने ही गढ़ में हार का सामना करना पड़ा। 47 जिपं सदस्यों में से नौ वार्ड पर ही भाजपा समर्पित प्रत्याशी जीत का परचम फहरा पाए। पूर्व सीएम कल्याण सिंह व राज्यमंत्री संदीप सिंह के गृहक्षेत्र अतरौली ब्लॉक में एक वार्ड को छोड़कर तीन पर भाजपा को करारी शिकस्त मिली। परिणामों में सपा, बसपा, रालोद का प्रदर्शन बेहतर रहा। कांग्रेस का खाता इस चुनाव में नहीं खुल सका।

जिपं सदस्य के 47 वार्डों की मतगणना सोमवार को भी जारी रही। रविवार देर रात से ही वार्डों के रुझान आना शुरू हो गए थे। सोमवार दोपहर 12 बजे तक अधिकतर वार्डों की तस्वीर साफ होनी शुरू हो गई। मतगणना केंद्रों पर समर्थकों की भारी भीड़ जमा थी। जैसे-जैसे नतीजे आते जा रहे थे, विजयी प्रत्याशियों के चेहरे खिलते नजर आए। कोविड-19 प्रोटोकॉल के चलते विजयी जुलूस तो नहीं निकले, लेकिन समर्थकों ने जीत का इजहार जरूर किया। परिणाम भाजपा के लिए अच्छे साबित नहीं हुए। सबसे बड़ी हार पार्टी प्रत्याशी खुशबू भारद्वाज की भाजपा के ही गढ़ कहे जाने वाले अतरौली ब्लॉक में हुई। वार्ड-8 में भाजपा समर्पित प्रत्याशी को निर्दलीय पुष्पेन्द्र लोधी ने करारी शिकस्त दी। इस ब्लॉक के चार वार्डों में से एक ही वार्ड-7 से प्रत्याशी प्रवेशवती ने जीत हासिल की।

निर्दलीय से मिली कड़ी टक्कर के बाद बची दिग्गजों की प्रतिष्ठा :
भाजपा के दिग्गजों की प्रतिष्ठा का सवाल बनी वार्ड-47 की सीट निर्दलीय प्रत्याशी से मिली कड़ी टक्कर के बाद जाकर बच पाई। भाजपा ने इस वार्ड से एटा सांसद राजवीर सिंह राजू की समधन विजय सिंह को चुनाव लड़ाया था। इस वार्ड में चुनाव प्रचार के लिए भाजपा ने पूरी ताकत झोंक रखी थी। राज्यमंत्री संदीप सिंह, एटा सांसद, अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम सहित तमाम भाजपाइयों ने चुनाव में दिन-रात एक कर दिया था। सोमवार को मतगणना के बाद जो तस्वीर बनी, वह काफी चौंकाने वाली रही। यहां निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. सीबी सिंह लोधी ने भाजपा व सपा समर्पित प्रत्याशी से बढ़त हासिल कर ली। हालांकि जैसे अन्य क्षेत्रों के वोट खुले तो भाजपा ने बढ़त बनाई। इस वार्ड से भाजपा प्रत्याशी महज 232 वोटों से जीत दर्ज करा पाईं।

सपा-बसपा ने लगाया मतगणना में हेराफेरी का आरोप :
जिला पंचायत सदस्य के कई वार्डों में री-काउंटिंग की स्थिति बनी। वार्ड-47 में भी री-काउंटिंग के बाद भाजपा प्रत्याशी बढ़त बना पाईं। इस पर सपा जिलाध्यक्ष गिरीश यादव व बसपा जिलाध्यक्ष रतन दीप सिंह ने मतगणना में हेराफेरी का आरोप लगाया।

जिला पंचायत सीटों के नतीजे :
कुल सीट-47
भाजपा-9
सपा-12
बसपा-6
आरएलडी-7
निर्दलीय-7

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments