केशव मौर्या के सुर बदले– तो मानना चाहिए योगी ही रहेंगे सी एम

IMG-20200820-WA0008
IMG-20200831-WA0002
IMG-20200831-WA0003
IMG-20210112-WA0003
IMG-20210509-WA0000

 

मिशन-2022 को लेकर भाजपा में सब कुछ ठीक-ठाक करने के कवायद के बीच मंगलवार को लखनऊ में डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य के घर पकी ‘समन्‍वय खीर’ का असर दिखने लगा है। बुधवार को एक निजी टीवी चैनल से बातचीत में केशव मौर्य ने एक तरह से तमाम अटकलों पर विराम लगाने वाला बयान दिया। सीएम पद के चेहरे को लेकर लग रही तमाम कयासबाजियों के बीच उन्‍होंने कहा कि जब राष्ट्रीय स्तर का नेता कोई बोलता है, तो उसका मतलब निकालना चाहिए। अभी योगी जी ही ही मुख्यमंत्री हैं, अगर राष्ट्रीय नेतृत्व बोल रहा है कि वही मुख्यमंत्री होंगे, तो मानना चाहिए कि वही सीएम रहेंगे।

गौरतलब है कि लखनऊ में राजनीतिक हलचल के बीच मंगलवार को अचानक मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य के घर पहुंचे थे। सीएम के चेहरे को लेकर चल रही अटकलबाजियों के बीच इसे बड़ी राजनीतिक घटना माना जा रहा है। अपने पांच कालीदास मार्ग स्थित आवास से महज महज 120 मीटर की ही दूरी पर होने के बावजूद सीएम योगी सवा चार साल में कभी भी केशव प्रसाद के घर नहीं गए थे। ऐसे में जब अचानक सीएम और तमाम बड़े नेता केशव मौर्य के घर पहुंचे तो इससे कई तरह के कयास लगाए जाने लगे। हालांकि बताया गया कि केशव मौर्य के बेटे की शादी हुई थी। सभी नेता बेटे और बहू को आशीर्वाद देने पहुंचे थे। इस बारे में पूछे जाने पर डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य ने कहा कि वह पहली बार हमारे घर जरूर आए हैं लेकिन हर सुख-दु:ख में हम साथ खड़े रहे हैं।

उधर, सियासी गलियारों में कहा जाने है लगा कि भाजपा और आरएसएस मिशन-2022 को लेकर किसी भी तरह का रिस्‍क उठाने को तैयार नहीं है। इस दौरान वहां सीएम योगी के अलावा डिप्‍टी सीएम दिनेश शर्मा, आरएसएस के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होशबोले, सह सरकार्यवाह कृष्ण गोपाल और क्षेत्र प्रचारक अनिल सिंह सहित कई पदाधिकारी मौजूद रहे। केशव मौर्य ने इन दिग्‍गजों को भोजन में अरहर की दाल, तोरई, लौकी की सब्जी, पापड़, सलाद, चपाती और मीठे में खीर खिलाई। इस खीर की मिठास अब रंग दिखा रही है।

बुधवार को केशव मौर्य ने कहा कि संगठन में कोई बदलाव नहीं होने जा रहा है। हर किसी का एक ही लक्ष्य है कि 2022 में भाजपा 300 से ज्यादा सीटें जीत कर आए। लखनऊ में हाल में हुई समन्‍वय और समीक्षा बैठकों पर उन्‍होंने कहा कि ये होती रहती हैं, आगे भी होती रहेंगी। उन्‍होंने कहा कि हमारा फोकस प्रदेश के विकास पर रहा है। विपक्ष लगातार इधर-उधर की बातें कर रहा है। केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार सिर्फ काम पर फोकस कर रही है। जनता हमारे साथ है।

संजय निषाद पर क्‍या बोले केशव मौर्य 
निषाद पार्टी की डिप्‍टी सीएम का चेहरा बनाने की मांग पर केशव मौर्य ने कहा कि यदि किसी की कोई बात है, तो वो कह सकते हैं लेकिन गठबंधन में उठने वाली ऐसी किसी भी बात पर विचार और निर्णय नेतृत्‍व करेगा।

सीएम के चेहरे वाले सवाल पर पहले दिया था ये बयान
2022 विधानसभा चुनाव में भाजपा की ओर से सीएम का चेहरा कौन होगा इस सवाल पर हाल में डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य ने कहा था कि सीएम का चेहरा केंद्रीय नेतृत्‍व तय करेगा। उनके इस बयान से सियासी गलियारों में तमाम अटकलें लगाई जाने लगी थीं लेकिन बुधवार को उनके बयान से इन सभी अटकलों पर विराम लगाने की कोशिश नज़र आई।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments