जिलाधिकारी के कार्यालयों के निरीक्षण से हडकंप , कई कर्मचारी मिले अनुपस्थित

IMG-20210112-WA0003
IMG-20211106-WA0002

उरई | जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने सोमवार को प्रातः 10ः05 बजे कलेक्ट्रेट एवं कलेक्ट्रेट परिसर में स्थित समस्त विभागों का औचक निरीक्षण किया। उन्होने सर्वप्रथम संयुक्त कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने रजिस्टर मंगाकर अवलोकन किया जिसमें वीर कुमार मिश्र, ज्ञान सिंह, श्रीमती आरती, राजेश कुमार वर्मा, राजेश चन्द्र तिवारी, श्रीमती हेमलता पटेल, आशुतोष श्रीवास्तव, सिवेन्द्र कुमार, सावन मिश्रा, रामस्वरूप एवं आशुतोष व्यास अनुपस्थित पाये गये। उन्होने इसके बाद नजारत अनुभाग का औचक निरीक्षण किया जिसमें कमलेश कुमार एवं सीमा देवी अनुपस्थित पाये गये।
जिलाधिकारी ने सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय एवं अपर जिलाधिकारी (नमामि गंगे) के कार्यालय का भी निरीक्षण किया। उन्होने उपजिलाधिकारी सदर के कोर्ट का भी निरीक्षण किया | निरीक्षण के दौरान पेशकार अनुपस्थित पाये गये। उन्होने सहायक महानिरीक्षक चकबंदी कार्यालय का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने कक्ष की दीवारों में दरार देख कर कहा कि इसकी मरम्मत शीघ्र कराये जाने के निर्देश दिये। साफ-सफाई किये जाने के भी निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने औषधि कार्यालय का भी निरीक्षण किया \ निरीक्षण के दौरान कार्यालय के सामने घास-फूस की सफाई किये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी द्वारा आपदा प्रबन्धन/संग्रह अनुभाग कार्यालय का भी निरीक्षण किया गया | निरीक्षण के दौरान आपदा प्रंबधन कार्यालय का रजिस्टर मंगाकर देखा जिसमें दिनेश कुमार एवं ईदुल मुहम्मद अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी द्वारा खनिज अनुभाग का भी निरीक्षण किया गया । निरीक्षण के दौरान अंजनी कुमार अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी द्वारा जिला प्रोबेशन कार्यालय का भी निरीक्षण किया गया | कार्यालय के बरामदे के टूटे फर्श को ले कर इसे ठीक सही कराये जाने के निर्देश दिये तथा कार्यालय में भीड़ जमा होने पर नाराजगी जाहिर करते हुये पूछा कि ये व्यक्ति किस कार्य से आये है | इन्हे बाहर बैठाया जाये। उन्होने रजिस्टर मंगाकर देखा जिसमें पवन कुमार, योगेन्द्र प्रताप, नरेन्द्र कुमार तथा रचना कुमारी कुशवाहा, सुरेश कुमार एवं वीर सिंह अनुपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी ने खाद्य सुरक्षा कार्यालय का भी निरीक्षण किया | निरीक्षण के दौरान कार्यालय में रख रखाव एवं साफ-सफाई को व्यवस्थित ढंग से किये जाने के निर्देश दिये। उन्होने मालखाना का भी निरीक्षण किया जिसमें कलेक्ट्रेट के निष्प्रयोज्य उपकरण/सामान रखे हुये थे जिलाधिकारी द्वारा नाजिर को इसे किसी दूसरी सुरक्षित जगह पर रखे जाने के निर्देश दिये। उन्होने अल्पसंख्यक कार्यालय का भी निरीक्षण किया। जिलाधिकारी द्वारा सीलिंग अनुभाग का भी निरीक्षण किया गया तथा रख रखाव एवं साफ-सफाई अव्यस्थित पाये जाने पर उसे व्यवस्थित करते हुये कही दूसरी जगह रखे जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने समस्त अनुपस्थित कर्मचारियों को स्पष्टीकरण दिये जाने के निर्देश देते हुये कहा कि भविष्य में अनुपस्थित पाये जाने पर इनके विरूद्व कठोर कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि मेरे द्वारा कार्यालय का निरीक्षण समय-समय पर होता रहेगा। उन्होने यह भी कहा कि सभी अधिकारी समय से उपस्थित होे तथा अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को भी समय से उपस्थित होने हेतु निर्देशित करे।