बीएसए कार्यालय का लेखा बाबू 10 हजार की रिश्वत लेता रंगे हाथों गिरफ्तार

IMG-20210112-WA0003

उरई। बेसिक शिक्षाधिकारी कार्यालय के एक बाबू को झांसी से आयी एन्टीकरप्शन टीम ने 10 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया। मुकद्दमा दर्ज कराकर उसे जेल भेजा जा रहा है।
पकड़े गये बाबू का नाम विनय कुमार बताया गया है जो बीएसए दफ्तर के लेखा अनुभाग में कार्यरत था। इस बाबू ने कुठौंद विकास खंड के भदेख स्थित प्राथमिक विद्यालय के सहायक अध्यापक ओमजी राना से उसके दो माह के बकाया वेतन के भुगतान के लिए 10 हजार रूपये की रिश्वत मांग रहा था। ओम जी ने इसकी शिकायत भ्रष्टाचार निवारण संगठन की झांसी इकाई के एसपी से की। उन्होंने टीम भेजकर मंगलवार को बाबू को रंगे हाथों पकड़वा लिया।
यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन का कहना है कि भ्रष्ट लिपिक की गिरफ्तारी में संगठन के प्रदेश कोषाध्यक्ष विजय पटेल व संयुक्त महामंत्री रमाकांत शुक्ला की सक्रिय भूमिका रही है। सूत्रों ने बताया है कि नई नियुक्ति के लगभग सभी शिक्षकों का दो माह का वेतन बकाया है जिनके भुगतान हेतु बाबू विनय कुमार हर शिक्षक से 10 हजार रूपये की रिश्वत की मांग करता था।