दिवंगत छात्र को सहपाठियों ने दी श्रृद्धांजलि

कोंच-उरई। गुजरी 18 जुलाई को सर्पदंश से एमपी कॉलेज के छात्र हरदौल का असमय निधन हो जाने से उसके सहपाठियों में शोक की लहर है। बुधवार को मथुराप्रसाद महाविद्यालय के छात्र नेता ऋषि झा द्वारा मोनू राठौर के आवास पर श्रृद्धांजलि सभा आयोजित की गयी जिसमें बीए द्वितीय वर्ष के छात्र हरदौल पटेल निवासी ग्राम डाढी के अप्रत्याशित निधन पर गहरी संवेदना प्रकट की गई। ऋषि झा ने कहा कि उनके अभिन्न साथी हरदौल के इस दुखद निधन से सहपाठी छात्रों की अपूरणीय क्षति हुई है जिसकी भरपाई कभी नहीं हो सकती है। इस दौरान फैजान मंसूरी, गौरव सक्सेना, उदय प्रताप सिंह, आमिर खान, महिमा, प्रियंका सोनी, दीक्षा रावत, प्रमोद अहिरवार, पप्पू खान, अजय यादव, राजू, राधा बोहरे, रुक्मिणी, संगीता, अवनि दीक्षित, प्रिया कुमारी, अभिषेक बुटोलिया, सावन कुमार, बैशाली, मोहित भारद्वाज आदि छात्र छात्रायें मौजूद रहे।

Advertisements

अनहोनी घटनाओं में दो की मौत

कालपी-उरई। कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत अलग-अलग अनहोनी घटनाओं में दो लोगों की अकाल मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मोहल्ला तरीबुल्ला में सिकंदर (25वर्ष) पुत्र रामबाबू संविदा पर पालिका में सफाई कर्मचारी होने के कारण डयूटी कर रहा था। इसी दौरान सांप के काट लेने से उसने दम तोड़ दिया। एक अन्य घटना के तहत नगर पालिका कालपी के गेट के बाहर मानसिक रूप से विक्षिप्त 50 वर्षीय अधेड़ की मौत बीमारी के कारण हो गई।

बालू माफिया के घर पकड़ा जुए का बड़ा अडडा, 25 का चालान

उरई। कालपी में जुए के एक बड़े अडडे पर बीती रात पुलिस द्वारा अचानक मारे गये छापे से हड़कंप मच गया। दो दर्जन से अधिक जुआरी इस दौरान रंगे हाथों पकड़े गये। लेकिन रुपये की बरामदगी केवल 24 हजार की हो सकी। इसके अलावा एक बुलेरो जीप और 10 मोबाइल भी पुलिस ने जब्त किये हैं। कालपी के मोहल्ला रावगंज में सपा से जु़ड़े रहे एक बालू माफिया के घर पेशेवर तरीके से लंबे समय से जुआ खिलवाया जा रहा था जिसमें दूर-दूर से खिलाड़ी आते थे। जानकारी होते हुए भी पुलिस ने इस अडडे पर सैटिंग-गैटिंग फार्मूला चलने के नाते कभी दबिश मारी नही की। लेकिन मंगलवार की रात पुलिस कार्रवाई के लिए मजबूर हो गई क्योंकि इसके लिए ऊपर से फरमान आ गया था। फिर भी पुलिस हमदर्दी की वजह से पकड़े गये जुआरियों को थाना स्तर से ही जमानत देने जा रही थी लेकिन तब तक खबरची ने कानपुर में एडीजी जोन अविनाश चंद्रा को अवगत करा दिया। जिससे उन्होंने फोन पर कालपी के कोतवाल को अच्छी तरह से हड़काया। नतीजतन आज सभी पकड़े गये जुआरी अदालत में पेश किये गये। हालांकि उनकी अदालत से तत्काल ही जमानत हो गई। पकड़े गये जुआरियों में महेंद्र कुमार करमचंदपुर, दरशन सिंह बरही, राकेश गुप्ता मोहल्ला टरननगंज, देवेंद्र यादव मोहल्ला हरीगंज, पवन कुमार, पर्वत सिंह, छोटू, मनोज कुमार, बाबूराम टरननगंज, अमित कुमार सदर बाजार, विजय, हरीमोहन, राकेश, बृजकिशोर तिरही शामिल हैं। गौरतलब है कि जिले में इस समय अवैध जुए का कारोबार जोरों पर है। जिसमें पुलिस की भी पूरी मिली भगत है। अमिताभ यश के समय पुलिस ने इसे पूरी बेबाकी से रोकने के प्रयास के तहत जुआ खिलवाने वालों पर गैंगस्टर लगाये थे जिससे लंबे समय तक जुआ के अडडे वीरान बने रहे थे। लेकिन अब पुलिस साॅफ्ट कार्नर की वजह से जुआ एक्ट की मामूली कार्रवाई करती है। जिसमें जुआरियों को तत्काल जमानत मिल जाती है। इसलिए उनमें पुलिस की कार्रवाई का कोई भय नही रह गया है।

फूलन देवी की बहन और मां को पूर्व सीएम अखिलेश ने भेजी 1 लाख की सहायता

उरई। समाजवादी पार्टी ने अपनी दिवंगत सांसद फूलन देवी के भुखमरी की कगार पर जा पहुंचे परिजनों की सुध सत्ता जाने के बाद आखिर ली। बुधवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा सहायता के बतौर भेजी गई एक लाख रुपये की नगद धनराशि देने स्थानीय नेता उनके गांव पहुंचे। गौरतलब है कि फूलनदेवी का पैतृक गांव जालौन जनपद के कालपी थाना क्षेत्र अंतर्गत शेखपुर गुढ़ा है जहां उनकी मां मुला देवी और बहन रहती हैं। सपा सरकार के समय से ही फूलन देवी की मां घर में खाने-पीने की कोई व्यवस्था न होने के कारण प्रशासन से मदद की गुहार लगा रही थी जिसके लिए जिला मुख्यालय आकर डीएम से भेंट की और आत्मदाह तक की धमकी दे डाली थी लेकिन फिर भी न प्रशासन पसीजा और न सरकार। पर सरकार में न रहने के बाद जब सपा के वर्तमान मुखिया अखिलेश यादव को इस बारे में अवगत कराया गया तो उन्होंने फौरन अपने स्तर से मदद के लिए कदम उठाये। इसके तहत शेखपुर गुढ़ा पहुंचकर पूर्व विधायक डाॅ. अरुण मेहरोत्रा, पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेंद्र बजरिया, जयदेव सिंह यादव, शिव बालक सिंह, युवजन सभा के प्रदेश सचिव अजीत सिंह, अरविंद यादव, रामजी रामसखा, पूर्व प्रधान रामबाबू निषाद, जेंटर निषाद, जितेंद्र यादव, गुलाब सिंह यादव, अफजाल गुडडू, राजकुमार बाल्मीकि, अजमद खान, मनोज निषाद, मो. दानिश, मोहन निषाद, सुखलाल निषाद आदि सपा कार्यकर्ताओं ने फूलन देवी के घर पहुंचकर गांव वालों की मौजूदगी में 50 हजार रुपये पूर्व सांसद की बहन रामकली को दिये जबकि उनकी मां मुला देवी बाहर थीं इसलिए बताया कि उन्हें 50 हजार रुपये उनके गांव लौट आने के बाद सुपुर्द किये जायेगें। गौरतलब है कि 26 जुलाई को ही दिल्ली में फूलन देवी की हत्या गोली मारकर उनके सांसद आवास पर कर दी गई थी। जिसकी वजह से अखिलेश यादव ने उनके शहादत दिवस पर मदद उनके परिजनों को भेजी।

लावारिस मोटर साइकिल से फैली सनसनी, गांव वालों की सूचना पर पुलिस ने लिया कब्जे में

उरई। गांव में लावारिस हालत में काफी देर से खड़ी मोटर साइकिल को देख आशंकित गांव वालों ने पुलिस को खबर कर दी। पुलिस ने मोटर साइकिल अपने कब्जे में लेकर यह पता लगाना शुरू कर दिया है कि यह किसकी मोटर साइकिल है और गांव में खड़ी करके वह क्यों गायब हो गया। जालौन कोतवाली क्षेत्र के ग्राम लहचूरा में एक मोटर साइकिल काफी समय से खड़ी थी। गांव वाले मोटर साइकिल खड़ी करने वाले को नही देख पाये थे। इसलिए संदिग्ध स्थिति जान उन्होंने दूसरे लोगों से पूंछतांछ की। जब मोटर साइकिल मालिक की कोई जानकारी नही मिली तो गांव वालों ने पुलिस को खबर कर दी। पुलिस ने मोटर साइकिल को कब्जे मे लेकर छानबीन शुरु कर दी।

कहासुनी में मारपीट, दबंग के खिलाफ मुकदमा

उरई। ट्रैक्टर खड़ा करने को लेकर हुई गर्मागर्मी में पड़ोसी ने मारपीट कर डाली जिससे पीड़ित ट्रैक्टर मालिक ने पुलिस ने उसके खिलाफ शिकायत कर दी। नतीजतन उसके विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया गया। मामला जालौन कोतवाली क्षेत्र के गांव उरगांव का है। रमेश की अपना ट्रैक्टर खड़ा करने को लेकर पड़ोसी रामअवतार से कहासुनी हो गई थी। रामऔतार ने इससे गुस्से में आकर रमेश के साथ गाली-गलौज करते हुए उसकी पिटाई कर डाली जिससे नाराज रमेश ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया।

वृंदावन में हत्या कर फरार युवक औरेखी में दबोचा गया

उरई। गोवर्धन धाम में हुई हत्या के मामले में वांछित युवक को मथुरा पुलिस की सूचना पर जालौन कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक महाराज सिंह तोमर ने औरेखी गांव से पकड़ लिया और मथुरा पुलिस की टीम के सुपुर्द कर दिया। मथुरा जिला अंतर्गत गोवर्धन धाम में एक आश्रम के चैकीदार की हत्या कर आटा थाने के इटौरा गांव का निवासी अनिल फरार हो गया था। मथुरा पुलिस को सूचना मिली कि वह जालौन कोतवाली क्षेत्र के औरेखी गांव में छुपा हुआ है। जिसके बाद मथुरा की पुलिस टीम दबिश देने के लिए जालौन आ पहुंची। जहां स्थानीय पुलिस की मदद से उसे दबोच लिया गया।