आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की  कलमबंद हड़ताल जारी

 

जालौन-उरई । आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा जारी कलमबंद हड़ताल का स्थान निकाय चुनाव को देखते हुए ब्लाॅक परिसर से हटाकर अन्य स्थान किए जाने का निर्णय किया गया। इसके साथ ही चुनाव के उपरांत 27 नबंवर से पुनः ब्लाॅक परिसर में हड़ताल जारी रखने का निर्णय सर्वसम्मति से किया गया।

गत माह 22 अक्टूबर से ब्लाॅक क्षेत्र में तैनात आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां प्रदेशीय नेतृत्व के आवाहन पर विभिन्न मांगों को लेकर शांतिपूर्ण ढंग से ब्लाॅक परिसर में अनिश्चित कालीन धरने पर बैठी हैं। कार्यकत्रियों का कहना है कि जब तक प्रदेश सरकार द्वारा उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाता है, तब तक यह हड़ताल जारी रहेगी। निकाय चुनाव की प्रक्रिय संपन्न कराने के लिए ब्लाॅक परिसर में भी पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। ब्लाॅक परिसर में लगभग एक माह से जारी हड़ताल का स्थान निकाय चुनाव को देखते बदले जाने का निर्णय आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों द्वारा लिया गया है। महिला आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की ब्लाॅक अध्यक्ष श्रीमती रेखा अवस्थी ने बताया कि निकाय चुनाव की प्रक्रिया संपन्न होने के उपरांत 27 नवंबर से पुनः ब्लाॅक परिसर में हड़ताल जारी रहेगी। इस मौके पर ब्लाॅक उपाध्यक्ष सुमन गुबरेले, मंत्री आराधना, इंद्रदेवी लहचूरा, राजवती छिरिया सलेमपुर, विमला देवी हरकौती, जयकुमारी श्रीवास्तव औरेखी, कुसुम कुमारी औरेखी, मालती सोनई परवई, सरला श्रीवास्तव खजुरी, रागनी उदोतपुरा, मीना देवी धनौरा आदि सहित लगभग एक सैंकड़ा से अधिक आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां उपस्थित रहीं।

 

 

 

Advertisements

जो करे नगर का विकास उसे चुनगी जनता इस बार

 

जालौन-उरई । सोमवार को सायं से चुनाव प्रचार थम जाने के बाद मतदाताओं को लुभाने एवं अपनी ओर करने के लिए बैठकों का दौर शुरू हो गया है। प्रत्याशियों द्वारा वोटरों को अपने पक्ष में करने के लिए जोड़ तोड़ की कोशिशें जारी हैं।

नगर निकाय चुनाव का प्रचार सोमवार की सायं से थम गया है। चुनाव प्रचार थमने के बाद अब बैठकों का सिलसिला शुरू हो गया है। अध्यक्ष व सभासद पद के प्रत्याशी जाति व क्षेत्र विशेष के लेागों को अपनी ओर करने के लिए जोड़ तोड़ में लगे हुए हैं। वोटरों को अपने पक्ष में करने के लिए प्रत्याशियों द्वारा लगातार प्रयास जारी है। नगर में सोमवार की रात बैठकों का दौर जारी रहा। तो वहीं, मंगलवार को मतदेय स्थल पर खुलने वाले काउंटरों की व्यवस्था बनाने का काम किया गया। सभासद व अध्यक्ष पद के प्रत्याशी पूरे दिन पैदल भ्रमण कर मतदाताओं को साधने का प्रयास करते रहे। वहीं उनके समर्थक बुधवार को खुलने वाले काउंटरों की व्यवस्था के साथ वोट मैनेजमेंट में लगे रहे। एक एक वोट पर नजर लगाकर उन्हें अपने पक्ष में कराए जाने का प्रयास किया जा रहा है। यदि कोई वोटर बाहर है तो उसे बुलाए जाने का भी प्रयास किया जा रहा है। हालांकि अभी तक मतदाताओं ने अपना रूझान स्पष्ट नहीं किया है। वह आने वाले सभी प्रत्याशियों का स्वागत कर उन्हें अपना समर्थन देने की बात कह रहे हैं। अब देखना है कि आज होने वाले मतदान में ऊंट किस करवट बैठता है। मतदान को लेकर मतदाताओं का कहना है कि पिछली कई पंचवर्षीय योजनाओं से नगर वासियों काफी छला जाता रहा है। वादे तो बहुत किए गए लेकिन हकीकत में हुआ कुछ नहीं नगर की जनता को सिर्फ वोट बैंक समझा गया लेकिन इस बार ऐसा कुछ नहीं होगा। नगर की जनता ऐसे प्रत्याशी को चुनना चाहती है जो वास्तव में नगर का हित चाहता हो। हवा हवाई वादे न कर ईमानदारी से नगर की समस्याओं को समझकर उनका निस्तारण करे।

 

 

विद्युत करंट से मोर ने दम तोड़ा

एट-उरई । थाना क्षेत्र के ग्राम पचोखरा में  खेतो से निकली विद्युत लाइन  से चिपक कर  राष्ट्रीय पक्षी मोर के प्राण पखेरू उड़ गए । खेतों मे पानी लगा रहे किसानों ने यह देख कर  वन विभाग को इसकी  सूचना दी जिसके बाद मौके पर पहुंचे वन दरोगा जावेद सगीर ने मोर का पोस्टमार्टम कराने के उपरांत  एट पचोखरा वन रेंज परिसर मे उसे  दफन कर दिया ।

21 वीडियो ग्राफी टीमे रखेगी प्रत्येक वूथ पर निगरानी

कालपी(उरई )। कडी़ सुरक्षा व्यवस्था के बीच मंगलवार को एम.एस.वी.इन्टर कालेज कालपी से निकाय चुनाव के मतदान को सम्पन्न कराने के लिये नगर मजिस्ट्रेट उरई नाथूराम पाण्डेय तथा उपजिलाधिकारी सतीश चंद्र की देखरेख मे 71 पोलिंग पार्टियों को रवाना किया गया।

नगर पालिका परिषद कालपी के 25 वार्डों के मतदान को लेकर 21 मतदेय स्थल तथा 55 वूथो की स्थापना की गई है।जबकि नगर पंचायत कदौरा के 12 वार्डों के लिये 8 मतदेय स्थल तथा 16 वूथ बनाये गये है। एस.डी.एम.के अनुसार कालपी मे 25 तथा कदौरा के लिये 16 पोलिंग पार्टियों को रवाना किया जा चुका है।उन्होंने बताया कि कालपी मे 6 तथा कदौरा मे 2 पोलिंग पार्टियों को रिजर्व रखा गया है।मतदान की प्रक्रिया को निष्पक्षा तथा पारदर्शिता से निपटाने के प्रत्येक मतदेय स्थल पर एक-एक वीडियोग्राफी की टीम तैनात रहेगी।जो प्रत्येक पर नजर रखेगी।इसी प्रकार उपजिलाधिकारी के साथ एक पोलिंग पार्टी बराबर भ्रमणशील रहेगी।सुबह से कर्मचारी अपनी-अपनी डयूटी को सम्मालनं के लिये पहुच गये।डिप्टी एस.पी.सुबोध गौतम,तहसीलदार,नयाव तहसीलदार हरप्रसाद,नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी सुशील कुमार दोहरे,अशोक श्रीवास्तव,हरेन्द्र सिंह,प्रमोद दुबे आदि मौजूद रहे।

पुलिस को आधी अधूरी कामयाबी

कोंच-उरई । गिरवर नगर इलाके में बेरहमी से हुये पुलिस के मुखबिर के कत्ल के मामले में पुलिस को आज आधी अधूरी ही सही लेकिन पहली सफलता जरूर मिल गई है, पुलिस ने हत्याभियुक्तों में से एक को आज तड़के गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। हालांकि अभी इस मामले का मुख्य आरोपी तथा आला कत्ल बरामद करना पुलिस के लिये किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है।

पिछले दिनों गिरवर नगर इलाके में एक पुलिस मुखबिर का इतनी बेरहमी से कत्ल किया गया था कि उसका सिर कहीं, धड़ कहीं और हाथ कहीं मिले थे। गनीमत यह रही कि दो घंटे की मशक्कत में ही पुलिस ने इधर उधर बिखेरे गये कटे अंगों को हस्तगत करके भानुमती के कुनबे की तरह उन्हें जोड़ कर लाश की शिनाख्त करा ली थी जो आराजी लेन निवासी अकबर उर्फ भुर्री पुत्र मूसा कुरैशी की निकली। इस मामले में मृतक के भाई अफसर उर्फ कालिया ने पांच लोगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी। अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिये एसपी अमरेन्द्रप्रसाद सिंह के निर्देश पर सीओ रुक्मिणी वर्मा के निर्देशन में टीम गठित की गई थी जिसमें कोतवाल संतोषकुमार सिंह, एसएसआई मनोजकुमार सिंह, एसआई रामकुमार सिंह चौहान, हैड कांस्टेबिल मोहम्मद आजाद, कांस्टेबिल सुबोध, आनंद तिवारी, श्याम चौधरी शामिल रहे। पुलिस को आज अलस्सुबह सूचना मिली कि नामजद आरोपियों में से एक गोलू कुरैशी पुत्र इस्माइल को पिंडारी रोड पर देखा गया है। सूचना पर फौरी संज्ञान लेते हुये सुबह साढे छह बजे पुलिस टीम ने घेराबंदी करके गोलू को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने माना है कि भुर्री की हत्या उसके पुलिस मुखबिर होने की बजह से ही की गई है। पकड़े गये अभियुक्त ने बताया कि भुर्री पशु कटान के मामलों में पुलिस को सूचना देता था जिससे उसे तथा उसके साथियों को कई दफा जेल की हवा खानी पड़ी। बेरहमी से किये जाने के पीछे भी हत्याभियुक्तों का मकसद मुखबिरों में इतना खौफ पैदा करना रहा ताकि भबिष्य में किसी की हिम्मत पुलिस की मुखबिरी करने की न पड़े। उसने यह भी बताया कि हत्या उसी जगह की गई थी जहां शव मिला था जबकि कटा हाथ जेब में डाल कर ले गया था जिसे अंडा रोड पर फैंका गया था और कटा हुआ सिर घटनास्थल से थोड़ी ही दूर ईदगाह के पीछे उछाल दिया था। पकड़े गये अभियुक्त के खिलाफ गोकशी के भी मामले दर्ज हैं। उत्साहबद्र्घन के लिये पुलिस टीम को एसपी ने नकद पुरस्कार प्रदान किया है। कोतवाल का कहना है कि अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिये भी लगातार दबिशें दी जा रहीं हैं और जल्दी ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

एसआरपी से रवाना हुईं पोलिंग पार्टिंयां, मतदान बुध को

 

कोंच व नदीगांव निकाय का मतदान कराने को भेजी गईं 63 पोलिंग पार्टिंयां

 

 

कोंच=उरई । नगर निकाय चुनाव के लिये कल 22 नबंवर को होने बाले मतदान की उल्टी गिनती खत्म हो जाने के साथ ही आज कड़ी सुरक्षा के बीच पोलिंग पार्टिंयां रवाना कर दी गईं हैं। एसआरपी ग्राउंड में बनाये गये स्ट्रांग् रूम से मत पेटियां व अन्य मतदान सामग्री लेकर कुल 63 पोलिंग पार्टिंयां रवाना की गईं हैं जिनमें 53 कोंच पालिका क्षेत्र तथा 10 नदीगांव नगर पंचायत क्षेत्र के लिये रवाना हुईं हैं। एसडीएम, सीओ व तहसीलदार की देखरेख में सभी पार्टिंयों को रवाना किया गया ।

कल 22 नबंवर को निकाय चुनाव के लिये मतदान होना है, कड़ी सुरक्षा के बीच आज एसआरपी इंटर कॉलेज से पार्टिंयां रवाना हुईं। एसडीएम सुरेश सोनी, सीओ रुक्मिणी वर्मा तथा तहसीलदार भूपाल सिंह लगातार कंट्रोल रूम में रह कर पार्टिंयां रवाना कराने की रिपोर्टें लेते रहे। कोंच नगर पालिका के लिये बनाये गये 53 पोलिंग बूथों के लिये 53 पार्टिंयां भेजी गईं हैं। सभी पार्टिंयों में पीठासीन अधिकारी के अलावा प्रथम, द्वितीय व तृतीय मतदान अधिकारी के अलावा सुरक्षा बलों को भी लगाया गया है। यहां 6 पार्टिंयां रिजर्व में रखीं गईं हैं जिन्हें किसी भी बिषम परिस्थिति में मतदान कार्य में लगाया जा सकता है। नदीगांव नगर पंचायत में बनाये गये 10 पोलिंग बूथों के लिये दस पार्टियां भेजी गई हैं, यहां के लिये एक पार्टी रिजर्व में रखी गई है। एसडीएम सोनी ने बताया कि दो जोनल मजिस्ट्रेट कोंच निकाय तथा एक नदीगांव के लिये लगाया गया है, जबकि पांच सेक्टर मजिस्ट्रेट कोंच व दो नदीगांव में लगाये गये हैं जो लगातार मतदान कार्य पर नजर रखेंगे।

 

मतदान केन्द्रों पर लगाया गया है पर्याप्त सुरक्षा बल

मतदान शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिये सभी मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त सुरक्षा बलों की तैनाती की जा रही है। बताया गया है कि कोंच में 15 सब इंसपेक्टर, 61 कांस्टेबिल, 104 होमगार्ड्स तथा 4 महिला आरक्षियों को तैनात किया जाना है। उधर, नदीगांव में सभी दसों पोलिंग बूथ अति संवेदनशील हैं और वहां गड़बड़ी के ज्यादा अंदेशों को ध्यान में रखते हुये वहां के मतदान केन्द्रों पर 7 एसआई, 30 सिपाही तथा 78 होमगार्ड्स लगाये जा रहे हैं। इसके अलावा क्यूआरटी बैरियर लगा कर भी समूची मतदान प्रक्रिया पर नजर रखी जायेगी। इसके अलावा प्रभारी जोनल पुलिस अधिकारी भी मतदान कार्य पर निगाहें रखेंगे।

पाइप से लदा ट्रैक्टर पलट कर खाई में गिरा , ड्राइवर गंभीर घायल

उरई,21 नवम्बर  हि.स.)। पाइप लाद जा रहा ट्रैक्टर अनिंयंत्रित हो कर ट्राली समेत  गहरी खंती में गिर गया । हादसे के बाद ट्रैक्टर के फँसे ड्राइवर को बाहर निकालने के लिए क्रेन बुलानी पड़ी ।

एट थाना क्षेत्र में खेड़ा कला के पास मंगलवार को उक्त ट्रैक्टर पलटने से हुए हादसे में घायल ड्राइवर संजय भाटिया ( 30 वर्ष )पुत्र जगदीश भाटिया निवासी एट  की हालत गंभीर है जिसे क्रेन बुलावा कर ट्रैक्टर के नीचे से निकलवा कर एंबूलेंस से जिला अस्पताल भेजा गया जहाँ उसका उपचार चल रहा है ।

हिंदुस्थान समाचार / केपी सिंह ।